महिला को गोली मारकर 89 हजार रूपये व मोबाईल फोन छीनने के आरोप में तीन काबू

डिटैक्टिव स्टाफ जीन्द को मिली बडी कामयाबी।
आरोपियों के कब्जे से 2 पिस्तौल व 2 जिंदा रोंद किए बरामद।

जीन्द पुलिसः दिनांक 22.03.2021 को थाना उचाना प्रभारी को सूचना मिली थी कि गांव सुरबरा व नचारखेडा के बीच रजबाहा पर एक औरत को दो नौजवान लडको ने गोली मारकर कैश छीन लिया जिस पर उचाना पुलिस मौका पर पहुंची जहां नरेश पुत्र श्री रामेश्वर वासी मंगलपुर जिला जीन्द ने पुलिस को ब्यान दिया कि उसके भाई का देहांत हो चुका है उसके भाई की पत्नी पवन कुमारी उर्फ पौनी उसके भाई के देहांत के बाद बच्चों का पालन पोषण करने के लिए कमीशन पर बुढापा पैंसन (बी.सी.ए) बांटने का काम करने लगी। 

दिनांक 22.03.2021 को समय करीब 09ः00 बजे सुबह वह अपने घर से अपनी स्कुटी लेकर पैसे लेने के लिए गांव दुर्जनपुर गई थी जब वह पैसे लेकर सुरबरा से नचारखेडा कच्चा रास्ता रजबाहा पुल के पास दो नोजवान लडको ने उसकी भाभी पवन कुमारी को गोली मार दी व उसके पैसों का बैग व उसका मोबाईल छीन लिया। बैग में करीब 89 हजार रूपये थे। जिस पर थाना उचाना में मुकदमा नम्बर 86 दिनांक 22.03.2021 धारा 302/397/34/120 बी आई.पी.सी व शस्त्र अधीनियम के तहत मामला दर्ज किया गया।
जीन्द पुलिस अधीक्षक डी.आई.जी. श्री ओम प्रकाश नरवाल द्वारा मामले को सुलझाने व आरोपियों का पता लगाकर उन्हे पकडने बारे शख्त दिशा-निर्देश देते हुए उपरोक्त अभियोग की आगामी तफतीश का कार्य डिटैक्टिव स्टाफ जीन्द को सौंपा गया। डिटैक्टिव स्टाफ जीन्द ईन्चार्ज समरजीत सिहं के कुशल नेतृत्व में टीम ने तीन आरोपियों 1. जयमल पुत्र भीरा वासी सुरबरा, 2. जसबीर पुत्र धर्मबीर वासी सुदकैन कलां, 3. प्रवीण उर्फ काला पुत्र राजेन्द्र वासी कौथ कलां हाल सुदकैन कलां जिला जीन्द को काबु करने में सफलता हासिल की है।

प्रैस वार्ता के दौरान श्री जितेन्द्र सिहं डी.एस.पी उचाना ने जानकारी देते हुए बताया कि डिटेक्टिव टीम को गुप्त सूचना मिली कि जिन्होने 22.03.2021 को जिस औरत को गोली मारी व पैसे की लूट की थी उनमें एक लडका जैमल पुत्र भीरा वासी सुरबरा है और अब वह लडका सुरबरा से बिरोली खेडा के रास्ते नहर पुल पर खडा है जिस सूचना पर निरिक्षक समरजीत सिंह अपनी टीम के साथ नहर पुल पर पहंुच कर वहां खडे लडके को काबू किया जो जैमल पुत्र भीरा वासी सुरबरा था जिससे गहनता से पुछताछ अमल में लाई गई जिसने बताया कि दिनांक 22.03.2021 को जो घटना हुई है जिसमें वह खुद, जसबीर उर्फ जस्सी पुत्र धर्मबीर जाट वासी सुदकैन कलां व प्रवीण उर्फ काला पुत्र राजेन्द्र जाट वासी कौथ कलां हाल सुदकैन कलां थे। 

उन्होने पहले ही योजना बनाई थी कि यह औरत कई बार बैंक से पैसे ले जाती है तथा पैसे लेकर हर बार इसी रास्ते जाती है। जो योजना अनुसार जैमल ने उस औरत की रैकी करके जसबीर व प्रवीण उर्फ काला को बतलाया था। प्रवीण व जसबीर औरत के जाने वाले रास्ते पर पहले ही खडे हो गये थे और जैमल ने उनको यह बतला दिया था कि वह बैंक से चल पडी है। जिस योजना अनुसार प्रवीण व जस्सी ने रजबाहा पुल के पास औरत को गोली मारकर औरत से 89 हजार रूपये व मोबाइल लेकर भाग गये थे। जिसके बाद अन्य दो आरोपियों की सूचना मिलते ही तुरन्त जसबीर व प्रवीण उर्फ काला के ठिकानों पर रैड करके काबु किया गया। आरोपी जसबीर उर्फ जस्सी से एक पिस्तोल 315 बोर व एक जिन्दा रौन्द 315 बारे व प्रवीण उर्फ काला से एक पिस्तोल 32 बोर व एक रोन्द जिन्दा बरामद किया गया।

आरोपियों को अदालत में पेश करके दो दिन का पुलिस रिमाण्ड हासिल किया गया। जिस दौरान आरोपियों से पैसे, वारदात में प्रयोग किए गये मोटरसाईकिल व घटना स्थल की निशान देही करवाई जाऐगी।