पुन: खोला गया मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल, किसान करवा सकते हैं अपनी फसलों का पंजीकरण

फतेहाबाद, 25 मार्च।

उपायुक्त डॉ. नरहरि सिंह बांगड़ ने कहा है कि मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल को पुन: खोल दिया गया है। किसान अपनी फसल का ब्यौरा इस पोर्टल पर दर्ज करवा सकते हैं ताकि उन्हे मंडी में अपनी फसल बेचने में किसी प्रकार की परेशानी न आएं। उपायुक्त ने आढ़ती एसोसिएशन से भी कहा है कि किसानों को इस पोर्टल पर पंजीकरण करवाने के लिए जागरूक करें।



उपायुक्त डॉ. बांगड़ लघु सचिवालय के सभागार में विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक कर रबी खरीद सीजन 2020-21 की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। उपायुक्त ने मार्केट कमेटी सचिव को आदेश दिए कि सभी मंडियों में बिजली, सफाई, पीने का पानी, शौचालय की पूर्णतया व्यवस्था करवाएं।उपायुक्त ने बताया कि फतेहाबाद जिले में पिछले वर्ष 712551 एमटी गेहूं की खरीद की गई थी। इस वर्ष पिछले वर्ष की तुलना में 748179 एमटी खरीद होने की संभावना है व विभाग द्वारा गेहूं का समर्थन मूल्य 1975 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है। 

फतेहाबाद जिले में कृषि विभाग के आंकड़ो के अनुसार 24 मार्च 2021 तक 49444 किसानों ने मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाया है और उनके द्वारा 387358 एकड़ में बिजाई की गई है। भारतीय खाद्य निगम के अधिकारियों के साथ हुई बैठक अनुसार 150000 एमटी की सीधे तौर पर डिलीवरी भारतीय खाद्य निगम को दी जा सकती है। सभी खरीद एजेंसियों द्वारा खरीद की तैयारी कर ली गई है। गेहूं भंडाराण के लिए सभी खरीद एजेंसियों के पास अपने गोदाम भी है और पलिंथ किराए पर लिए भी जा रहे है। जिले में गेहूं के भंडारण के लिए कोई समस्या नहीं है। यदि आवश्यकता पड़ती है तो गेहूं किसानों के माध्यम से खरीदने के लिए जिले की विभिन्न मंडियों में 48 स्वंय सहायता समूह व 32 एफपीओ इकाईयां और हैफेड की 6 सोसायटी कुल 86 कार्य करने के लिए तैयार है।

उन्होंने मार्केट कमेटी सचिव को आदेश दिए कि सभी मंडियों में बिजली, सफाई, पीने का पानी, शौचालय की पूर्णतया व्यवस्था करवाएं। सभी मंडियों में कंप्यूटर, प्रिंटर, इंटरनेट की उपलब्धता भी सुनिश्चित करेंगे। इसके अतिरिक्त मंडियों में कोविड-19 के नियमों की पालना की जाए। रतिया, टोहाना, फतेहाबाद में पूर्व वर्ष की भांति व्यापार मंडल के सहयोग से किसानों के लिए खाने की व्यवस्था करवाएं। जिला फतेहाबाद में नोटिफाइड मंडी के अलावा किसी अन्य स्थान पर कोई गेहूं की ढेरी न लगी हो। 

बैठक में सख्त निर्णय लिया गया कि किसी भी अवस्था में नोटिफाइड मंडी के अलावा किसी भी स्थान पर रखी गई गेहूं की संबंधित विभाग द्वारा खरीद नहीं की जाएगी। यदि उपरोक्त नोटिफाइड मंडी के स्थान से अतिरिक्त गेहूं का मार्केट कमेटी के रजिस्टर में इंद्राज व गेट पास काटा जाता है तो इसके लिए संबंधि सचिव, मार्केट कमेटी पूर्णतया जिम्मेवार होगा। सभी मंडियों में तकनीकी सहायता केंद्र जल्द से जल्द स्थापित किए जाए ताकि मंडी में रिकॉर्ड, टोकन, उठान आदि की कोई समस्या न हो।

फतेहाबाद जिले में पिछले साल 19260 एमटी सरसों की खरीद हुई थी तथा इस बार 21000 एमटी खरीद होने का अनुमान है। सरसों खरीद के लिए गेहूं खरीद के लिए भट्टू व भुना दो केंद्र निर्धारित किए गए है। विभाग द्वारा सरसों का समर्थन मूल्य 4650 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है। फतेहाबाद जिले की मंडियों के लिए टैंडर आंमत्रित कर दिए गए थे और टैंडरों की तकनीकी बोली का कार्य पूर्ण कर लिया गया है व वित्तीय बोली का कार्य किया जा रहा है। खरीद शुरू होने से पहले टैंडर प्रक्रिया पुरी कर ली जाएगी। 

तकनीकी समस्याओं के निदान के लिए जिला सूचना अधिकारी से मीटिंग कर ली गई है तथा इसमें फतेहाबाद जिले की कुल 50 मंडियों में गेहूं खरीद के कार्य में तकनीकी सहायता के लिए अटल सेवा केंद्रों की डयूटियां तथा इनकी ट्रेनिंग जल्द करवा दी जाएगी। जिले में नोटिफाइड मंडी के अतिरिक्त अन्य मंडी, खरीद केंद्र की कोई आवश्यकता नहीं है। 

जिला फतेहाबाद की सभी मंडियों में रबी खरीद सीजन 2020-21 का कार्य कोविड-19 के नियमों को ध्यान में रखकर सुचारू रूप से किया जाएगा। बैठक में जिप सीईओ अजय चोपड़ा, डीएफएसओ विनीत, डीएमईओ साहिब राम, डीएम हैफेड मांगे राम बेनीवाल, डीएसपी अजैय सिंह, मार्किट कमेटी सचिव व आढ़ती एसोसिएशन के पदाधिकारी मौजूद रहे।