जिला हेडक्वार्टर के 3 SDM व 2 क्लर्कों के खिलाफ मामला दर्ज, जानिये क्या है पूरा मामला

फतेहाबाद शहर थाना में सीएम फ्लाइंग के सब 
इंस्पेक्टर राजेश कुमार की शिकायत पर फ़तेहाबाद   जिला हेडक्वाटर के 3 तत्कालीन एसडीएम व 2 
क्लर्कों के खिलाफ मामला दर्ज। 
तत्कालीन एसडीएम सतबीर जांगू, संजय बिश्नोई,  सुरजीत सिंह नैन व 2 क्लरक्कों पर IPC की विभिन्न 
धाराओं के तहत मामला दर्ज। 

अधिकारी और कर्मचारी मिलकर करते थे गाड़ियों की 
फर्जी रजिस्ट्रेशन सीएम फ्लाइंग को लगातार मिल रही थी शिकायत। शिकायत के आधार पर कार्यवाही करते हुए इन सभी अधिकारी और कर्मचारियों पर किया गया मुकदमा दर्ज।

क्या है पूरा मामला:  वाहन रजिस्ट्रेशन घोटाला
फतेहाबाद पुलिस ने फतेहाबाद के 3 पूर्व एसडीएम, 2 क्लर्क सहित कुल 8 लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। सीएम फ्लाइंग के डीएसपी की शिकायत पर पुलिस ने की केस दर्ज करने की कार्रवाई की है।

इस मामले में फतेहाबाद के पूर्व एसडीएम सतबीर जांगू, संजय बिश्नोई और सुरजीत नैन और एसडीएम कार्यालय के अलावा वाहन रजिस्टे्रशन आफिस के पूर्व क्लर्क ओमप्रकाश सिहाग, पूर्व क्लर्क राजेश खटक, शमशीर आलम खान निवासी अकबरपुर जिला रोहताश (बिहार), रमेश निवासी कन्हड़ी जिला फतेहाबाद व भीम सिंह निवासी डूल्ट जिला फतेहाबाद के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्ज किया है। 

शिकायत में कहा गया है कि उन्हें सूचना मिली थी कि कार्यालय उपमंडल अधिकारी (ना)/वाहन पंजीकरण अधिकारी फतेहाबाद में फर्जी दस्तावेज तैयार करके अन्य वाहन पंजीकरण अर्थोटियों से हरियाणा राज्य की अन्य अर्थोटी की एनओसी का प्रयोग करके व अन्य जिलों/अन्य राज्यों के रिहायशी मालिकों के नाम वाहन पंजीकरण किए जा रहे हैं। 

इन वाहन पंजीकरणों में वाहन निरीक्षक से व्हीकल पासिंग की रिपोर्ट भी नहीं लगाई जा रही। इस मामले में जांच के बाद मुख्यमंत्री उडऩदस्ते ने इस बारे पुलिस को शिकायत दर्ज करवाई। थाना शहर फतेहाबाद में उपरोक्त लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।