डोर टू डोर सर्वे में लगभग 7500 परिवारों के साढ़े 60 हजार परिवारों का किया स्वास्थ्य परीक्षण

फतेहाबाद, 18 मई।
प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार स्वास्थ्य विभाग की ओर से ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित रोगियों की पहचान के लिए जिला के गांवों में डोर टू डोर सर्वे किया जा रहा है और स्वास्थ्य संबंधि डाटा एकत्रित किया गया है। जिला में अभी तक 183 गांवों में टीमों ने सर्वे किया है।

इस बारे जानकारी देते हुए उपायुक्त डॉ. नरहरि सिंह बांगड़ ने बताया कि गांव स्तर पर गठित फील्ड टीमों ने चयनित गांवों में घर-घर जाकर सर्वे का कार्य किया है। ग्रामीणों के परिवार के सभी सदस्यों के बारे में जानकारी प्राप्त की है। सर्वे टीम ग्रामीणों को कोविड नियमों के बारे में जागरूक भी कर रही है।

परिवार में किसी को कोरोना के लक्षण जैसे सिरदर्द, बुखार, सूखी सांसी, बदन दर्द जैसी समस्याओं बारे जानकारी एकत्रित की जा रही है। सर्वे के दौरान लोगों का ऑक्सीजन लेवल जांचा जा रहा है। सर्वे टीम कोविड लक्षण पाए जाने पर व्यक्तियों को दवाईयां भी वितरित कर रही है। इंफ्लूएंजा जैसी बीमारी (आईएएल) और सीवियर एक्यूट रेस्पिेटरी इंफेक्शन के मामलों के प्रोफॉर्मा प्रश्नावाली तैयार की जा रही है।

उपायुक्त ने बताया कि सोमवार को टीम ने जिला के 183 गांवों में 7429 घरों का सर्वे करके 60643 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की। जिन में से 172 लोगों को आईएएल जैसी बीमारी के लक्षण मिलें। 50 घरों में पिछले 14 दिनों से कोविड के मरीजों की हिस्ट्री का भी पता चला।

उन्होंने बताया कि सर्वे के दौरान 160 लोगों के आरएटी (रेपिड एंटीजन टेस्ट) किए गए जिनमें से 35 लोग पॉजिटिव पाए गए। सर्वे के दौरान 326 लोगों के आरटीपीसीआर टेस्ट करवाए गए जिनमें से 9 मरीज पॉजिटिव मिलें। विलेज आइसोलेशन सेंटर में 3 लोगों को भेजा गया और एक मरीज को हायर सेंटर में रैफर किया गया है।