धरना स्थलों पर कोरोना टेस्ट के लिए डिस्पेंसरियां एवं आक्सीजन का किया जाए प्रबंध

आंदोलनरत किसानों के स्वास्थ्य को लेकर महम विधायक बलराज कुंडू ने जताई चिंता

- सरकार को पत्र लिखकर धरनारत किसानों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने का किया आग्रह

रोहतक, 12 मई : कोरोना महामारी लगातार विकराल रूप धारण करती जा रही है और शहरी आबादी के साथ-साथ अब गांवों में भी लोग इसकी चपेट में आते जा रहे हैं। दूसरी ओर तीन कृषि कानूनों की वापसी समेत अन्य मांगों को लेकर दिल्ली के बॉर्डर पर हजारों किसान अपनी जान की परवाह ना करते हुए आंदोलन स्थलों पर डटे हुए हैं। इन किसानों के स्वास्थ्य को लेकर केंद्र एवं राज्य सरकारें गंभीर नजर नहीं आ रही जिसे देखते हुए महम से निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू ने गंभीर चिंता जाहिर की है और इस सिलसिले में कुंडू ने राज्य सरकार को पत्र लिखकर आंदोलन स्थलों पर किसानों के लिए वेक्सिनेशन सेंटर,  डिस्पेंसरियां, आक्सीजन एवं अन्य सभी जरूरी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने की मांग की है।
विधायक बलराज कुंडू ने प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल, उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला तथा स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को पत्र लिखते हुए कहा है कि दिल्ली के टिकरी व सिंघु बार्डर पर धरने पर बैठे किसानों के स्वास्थ्य को प्राथमिकता देते हुए तुरन्त कोरोना वैक्सिनेशन सेंटर स्थापित किये जायें तथा सभी धरना स्थलों पर डिस्पेंसरी बनाकर आंदोलनरत किसानों की कोरोना जांच एवं वैक्सीन लगाने का कार्य युद्ध स्तर पर किया जाए ताकि अन्नदाताओं को इस महामारी की चपेट में आने से बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि सबसे अधिक चिंता इसलिए भी है क्योंकि धरना स्थलों पर बुजुर्ग एवं महिला किसानों के साथ-साथ बच्चों की संख्या भी अच्छी खासी है जो अपनी मांगों को लेकर अपने घरों को छोड़कर करीब 6 महीने से यहां स्थाई धरनों पर डटे हुए हैं। हालांकि, धरने पर बैठे किसान भाई कोरोना महामारी से बचने के लिये तमाम सावधानियां बरत रहे हैं लेकिन महामारी के लगातार विकराल होते रूप को देखते हुए यह बेहद जरूरी है कि इन धरनास्थलों पर बैठे किसानों के स्वास्थ्य को लेकर सरकार द्वारा गंभीरता के साथ सभी जरूरी उपाय किये जायें।
कुंडू ने कहा कि यह सरकार का दायित्व बनता है कि वह प्रत्येक नागरिक के अच्छे स्वास्थ्य के लिये बेहतर परिस्थितियों का निर्माण करे इसलिये मेरी हरियाणा सरकार से यह पुरजोर मांग है कि वह जल्द से जल्द आंदोलनरत किसानों के स्वास्थ्य के मद्देनजर सभी जरूरी उपाय करे।
----