विकास कार्यों की सैम्पलिंग रिपोर्ट व संतुष्टि के बाद ठेकेदारों को जारी की जाएं पेमेंट : एडीसी

एडीसी डॉ. नागपाल ने इंजीनियरिंग विंग व स्थानीय निकाय अधिकारियों के साथ विकास कार्यों की चर्चा की

फतेहाबाद, 2 जून।

नगर परिषद और नगर पालिकाओं में चल रहे विकास कार्यों की लगातार निगरानी के साथ-साथ सैम्पलिंग की जाएगी। सैम्पलिंग रिपोर्ट होने के बाद पूरे हो चुके कार्य पर वहां के निवासियों के संतुष्टि पत्र भी लिए जाएं। इन सब प्रक्रियाओं के बाद ही ठेकेदार को कार्य की पेमेंट जारी होनी चाहिए।

यह निर्देश जिला नगर आयुक्त एवं अतिरिक्त उपायुक्त डॉ. मुनीष नागपाल ने बुधवार को लघु सचिवालय के सभागार में नगर परिषद व इंजीनियरिंग विंग के अधिकारियों के साथ विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। जिला नगर आयुक्त डॉ. नागपाल ने फतेहाबाद में बन रहे बस अड्डा में शेष रहे कार्यों के बारे में आवश्यक दिशा निर्देश दिए और वन विभाग से कहा कि वे एनओसी दें ताकि पानी सप्लाई सहित दूसरे शेष कार्यों को पूरा कर लिया जाए। डॉ. मुनीष नागपाल ने अधिकारियों व कर्मचारियों से परिचय प्राप्त किया और अधूरे पड़े विकास कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए।

अतिरिक्त उपायुक्त ने नगर निकाय अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे जिला को स्वच्छ, सुंदर व हराभरा बनाने के लिए प्लान करें। उन्होंने कहा कि नागरिकों को स्वच्छता बारे जागरूक किया जाए। उन्हें गीला व सूखा कचरा अलग-अलग डिब्बों में रखने और डालने बारे बताया जाए। उन्होंने डोर टू डोर कूडा इक्_ा करने के कार्य की समीक्षा की। इसके अलावा एडीसी ने नागरिकों से पॉलिथीन बैग इस्तेमाल न करने की अपील भी की है।

उन्होंने सरकार द्वारा चलाई गई रेहड़ी चालकों के लिए स्ट्रीट वैंडर स्कीम के तहत अपना रजिस्ट्रेशन करवाने वाले लाभार्थियों को बैंक लोन दिलवाना सुनिश्चित किया जाए। बैठक में हरियाणा रोडवेज महाप्रबंधक कृष्ण कुमार, कार्यकारी अभियंता कृष्ण कुमार गोयत, डीएफओ राजेश कुमार, नगर परिषद के कार्यकारी अभियंता अमित कौशिक, ईओ डॉ. अरविंद बाल्यान, एमई सुमेर सिंह, अमित चोपड़ा, एसडीओ आरके मेहता, सुखविंद्र धुडिय़ा आदि मौजूद रहे।