2 डिग्री लुढ़का पारा, नरमा व बाजरा की फसलें बिछी

पिछले 5 दिनों से लगातार परिवर्तनशील चल रहे मौसम व शुक्रवार को सुबह व रात के समय हुई बरसात के बाद शनिवार को तापमान में गिरावट दर्ज की गई। 2 डिग्री की गिरावट के साथ जिले का अधिकतम तापमान 31 डिग्री व न्यूनतम तापमान 26 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं शुक्रवार की रात को हुई बरसात के साथ आई तेज हवा के चलते जिले के भूना व भट्टू इलाके में नरमा व बाजरा की फसल जमीन पर बिछने से नुकसान हुआ है।

वहीं कई इलाकों में फसलों में जलभराव होने से भी किसानों में चिंता बनी हुई है। चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार क्षेत्र में आज भी मौसम आमतौर पर परिवर्तनशील रहेगा तथा बादल छाए रहेंगे। इस दौरान कुछ इलाकों में तेज हवाओं के साथ हल्की बरसात आने की भी संभावना व्यक्त की गई है। कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों को बरसात के समय तक फसल में स्प्रे रोकने की सलाह दी है।।

फसलों के उत्पादन पर पड़ेगा असर

इन दिनों नरमे की फसल में टिंडे लगे होने तथा बाजरा की फसल भी दाना बना होने के चलते पौधों में वजन अधिक है। ऐसे में तेज हवा आने से फसलें जमीन पी बिछ गई हैं, वहीं मूंगफली की फसल में जलभराव होने से नुकसान होने की आशंका बनी हुई है। फसलों के जमीन पर बिछने से नुकसान होगा।