आखिरी मौका : खरीफ फसलों के पंजीकरण के लिए 14 से 17 अक्तूबर को पुन: उपलब्ध रहेगा पोर्टल

फतेहाबाद, 14 अक्टूबर।

मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर खरीफ की फसलों का पंजीकरण न करवाने वाले किसानों के लिए हरियाणा सरकार ने एक और आखिरी मौका देते हुए पोर्टल www.fasal.haryana.gov.in को 14 से 17 अक्तूबर तक पुन: खोलने का निर्णय लिया है, ताकि किसान अपनी खरीफ फसलों का पंजीकरण करवा सकें।



इस संबंध में उपायुक्त महावीर कौशिक ने जिला के किसानों से अपील करते हुए कहा कि जिन किसानों ने अभी तक उक्त पोर्टल पर अपनी फसलों का पंजीकरण नहीं करवाया है, वे किसान निर्धारित तिथियों में अपनी खरीफ फसलों का पंजीकरण अवश्य करवाएं, ताकि उन्हें फसल बेचने में किसी प्रकार की परेशानी न आएं। उपायुक्त ने बताया कि किसानों द्वारा अपने कृषि उत्पादों को मंडियों में बेचने तथा सरकार द्वारा चलाई जा रही कृषि से संबंधित योजनाओं का लाभ उठाने हेतू अपनी फसलों का पंजीकरण मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल में करवाना आवश्यक है। जो किसान पहले पंजीकरण नहीं करा पाए वे तुरंत पंजीकरण कराएं। उन्होंने बताया कि किसानों के लिए अपनी फसलों के पंजीकरण हेतू परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) का होना अनिवार्य होगा। किसान अपनी फसल से संबंधित शिकायत पोर्टल पर दर्ज करा सकते हैं। उपायुक्त ने बताया कि किसान अपना पंजीकरण किसी भी सीएससी सेंटर में जाकर करवा सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए किसान किसी भी कार्य दिवस में उप निदेशक कृषि अथवा अपने निकटतम खंड कृषि अधिकारी कार्यालय में संर्पक कर सकते हैं। इसके अलावा किसान कृषि विभाग के टोल फ्री नंबर 1800-180-2117 पर भी संपर्क कर सकते हैं।