'नट्टू काका' ने कभी 3 रुपये के लिए भी किया काम, कड़की की हालत में बेटे की फीस के लिए पड़ोसियों के आगे फैलाए थे हाथ


'नट्टू काका' (Nattu Kaka) के नाम से घर-घर में पहचाने जाने वाले एक्टर घनश्याम नायक (Actor Ghanshyam Nayak) अपने जीवन में बहुत संघर्ष किया. एक वक्त था, जब उनके पास अपने बेटे के स्कूल की फीस भरने के लिए तक के पैसे नहीं होते थे. महज 3 रूपया कमाने के लिए वे 24 घंटे काम किया करते थे.

 लोकप्रिय सीरियल ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ ( Taarak Mehta ka Ooltah Chashmah) में नट्टू काका (Nattu Kaka) का किरदार निभाने वाले एक्टर घनश्याम नायक (Ghanshyam Nayak) का 77 साल की आयु में दुनिया से रूखसत हो गए. अपनी कॉमेडी से सबके चेहरे पर मुस्कान बिखेरने वाले घनश्याम का जीवन संघर्षों से भरा रहा. जीवन के अंतिम समय में कैंसर (Cancer) जैसी जानलेवा बीमारी के गिरफ्त में आ गए थे. वर्ष 2020 में उनकी हालत बेहद खराब हो गई थीं. ऑपरेशन से आठ गांठे निकाली गईं, वो आहिस्ता-आहिस्ता ठीक भी हो रहे थे, उन्हें उम्मीद थी कि फिर से सबके चहते शो में वापसी करेंगे, मगर उनकी यह ख्वाहिश अधूरी ही रह गई. (फोटो साभार- instagram/@tarakmehtakaooltahchasmah)

वैसे तो घनश्याम जी ने अपने एक्टिंग करियर की शुरूआत बतौर एक चाइल्ड एक्टर(Child Actor) के रूप में की थी. साल 1960 में फिल्म ‘मासूम’ (Film Masoom) में उन्होंने एक बाल कलाकार की भूमिका निभाई थी.




भले ही उन्होंने अपनी एक्टिंग का सफर बहुत पहले किया हो, मगर उनकी राहें बहुत मुश्किलों से भरी रही. उन दिनों फिल्मों में ज्यादा पैसे नहीं मिला करते थे. घनश्याम (Ghanshyam) ने अपने एक इंटरव्यू में यह खुलासा किया था कि एक वक्त ऐसा भी आया जब वे महज तीन रूपए के लिए 24-24 घंटे काम किया करते थे. 

जिंदगी भर घनश्याम अपनी पहचान बनाने में जुटे रहें, आखिरकार उनके हाथ ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ जैसा शो लगा. उनका किरदार नट्टू काका, सबका चहेता बन गया. इस सीरियल ने उनकी किस्मत बदल दी. सबकुछ अच्छा चल रहा था, इसी बीच कोरोना काल ने एक बार फिर उनके जीवन में मुश्किलें खड़ी कर दी. उनका काम रूक गया और कैंसर ने उन्हें अपनी गिरफ्त में ले लिया. नट्टू काका के रूप में घनश्याम नायक हमेशा दिलों में बसे रहेंगे.