उपायुक्त ने जागरूकता वाहनों को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

 

फतेहाबाद, 4 अक्टूबर।

उपायुक्त महावीर कौशिक ने सोमवार को लघु सचिवालय के प्रागंण से जागरूकता वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। ये वाहन गांव-गांव जाकर किसानों को फसल अवशेष प्रबंधन बारे जागरूक करेंगें। इस मौके पर उपायुक्त महावीर कौशिक ने बताया कि जिला में फसल अवशेष प्रबंधन बारे किसानों को जागरूक करने के लिए कृषि विभाग द्वारा आज चार जागरूकता प्रचार वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया है। उन्होंने बताया कि ये जागरूकता वाहन जिला के सभी गांव में धान की बिजाई करने वाले किसानों को धान की कटाई उपरान्त बचे हुए फसल अवशेषों को आग न लगाने बारे जागरूक किया जाएगा। उन्होंने बताया कि धान के अवशेषों या पराली को जमीन में मिलाकर जमीन की उरवर्कता शक्ति बढ़ाने बारे किसानों को प्रेरित किया जाएगा। सरकार द्वारा फसल अवशेष प्रबंधन में प्रयोग होने वाले कृषि यंत्रों पर व्यक्तिगत श्रेणी के किसानों को 50 प्रतिशत व कस्टम हायरिंग सैंटर स्थापित करने पर 80 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है। इसके साथ-साथ धान की पराली की गाठें बनाकर उसका निष्पादन करने पर 1000 रुपये प्रति एकड़ की प्रोत्साहन राशि दी जानी है। किसान भाईयों से अपील है कि सरकार द्वारा दी जा रही सहायता का अधिक से अधिक लाभ उठाकर भूमि की उरर्वरा शक्ति को बढ़ाते हुए अधिक मुनाफा कमाएं।

फोटो कैप्शन: फतेहाबाद। जागरूकता वाहनों को रवाना करते हुए उपायुक्त महावीर कौशिक।