किसानों को फसल बेचने में नहीं आनी चाहिए कोई परेशानी : विनीत गर्ग

प्रधान सचिव ने मंडियों से धान उठान के दिए निर्देश, दौरा कर लिया प्रबंधों का जायजा

फतेहाबाद, 22 अक्टूबर। 

किसानों को मंडियों में धान की फसल बेचने में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी नहीं आनी चाहिए। किसानों को उनकी फसल का 72 घंटे में भुगतान करवा दिया जाए। ये निर्देश हरियाणा के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता व अनूसूचित जातियां एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के प्रधान सचिव विनीत गर्ग ने शुक्रवार को लघु सचिवालय के सभागार में फसल खरीद कार्य से जुड़े विभागों व जिलाधिकारियों की बैठक में दिए। प्रधान सचिव ने अनाज मंडी फतेहाबाद और भूना का दौरा किया और फसल खरीद प्रबंधों का जायजा लिया। 

प्रधान सचिव विनीत गर्ग ने कहा कि मंडियों में फसल खरीद के सभी पुख्ता प्रबंध सुचारू रहने चाहिए। खरीद हो चुके धान का उठान भी एजेंसियां जल्द से जल्द करवाएं ताकि मंडियों में नई आवक में परेशानी न हो। उन्होंने कहा कि अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि मंडी में किसी भी प्रकार का जाम नहीं लगा होना चाहिए। गेट पास कटने के बाद किसान को फसल बेचने में दिक्कत नहीं होनी चाहिए। मंडियों में पानी, बिजली, शौचालयों और सफाई की समुचित रहनी चाहिए। उन्होंने खरीद एजेंसियों को निर्देश दिए कि वे मंडियों से खरीद हो चुके धान को उठवाना सुनिश्चित करें।

उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारियों से जिला में खाद की उपलब्धतता की जानकारी ली और निर्देश दिए कि किसानों को फसल बिजाई में खाद की कमी नहीं होनी चाहिए। सरसों फसल बिजाई में एसएसपी और डीएपी की उपलब्धतता सुनिश्चित की जाएं और आगामी गेहूं बिजाई के लिए भी खाद की व्यवस्था की जाए। प्रधान सचिव ने मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल, फसल विविधिकरण, पराली प्रबंधन की भी समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस अवसर पर उपायुक्त महावीर कौशिक, एडीसी अजय चोपड़ा, एसडीएम राजेश कुमार, जिप सीईओ कुलभूषण बंसल, सीटीएम अंकिता वर्मा, डीडीए डॉ. राजेश सिहाग, डीएमईओ चरणजीत, डीएफएससी विनीत जैन, मार्केट कमेटी सचिव संजीव सचदेवा, व्यापार मंडल प्रधान जगदीश भादू आदि अधिकारी मौजूद रहे।