50000 का चालान काटने के विरोध में आरटीओ कार्यालय में पहुंचे ट्रक, कैंटर चालक

फतेहाबाद में गाड़ी का 50000 का चालान काटने के विरोध में आरटीओ कार्यालय में पहुंचे ट्रक, कैंटर चालक,  किया हंगामा, अधिकारी पर लगाये गम्भीर आरोप



जिले में बुधवार को ट्रक और कैंटर चालकों ने आरटीए द्वारा ट्रकों और ट्रालों का चालान काटने के विरोध आरटीओ कार्यालय पर (Track Driver Protest in fatehabad) जमकर प्रदर्शन किया. ट्रक और कैंटर चालकों ने आरटीओ कार्यालय के मुख्य द्वार का ताला जड़कर अपनी मांगों को जल्द पूरा किए जाने की मांग की. ट्रक और कैंटर चालकों ने अधिकारियों और कर्मचारियों पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए.

फतेहाबाद में आरटीए द्वारा ट्रकों और ट्रालों का चालान काटने के विरोध में बुधवार को ट्रक चालकों और मालिकों ने आरटीए कार्यालय जमकर नारेबाजी की. चालकों ने आरटीए कार्यालय के अधिकारियों और कर्मचारियों पर गलत तरीके से चालान काटने के आरोप लगाते हुए अपनी गाड़ियों को कार्यालय के बाहर खड़ा किया और कार्यालय के मुख्य द्वार पर ताला जड़ दिया. ट्रक मालिक सुभाष पपिया ने बताया कि आये दिन अवैध तरीके से चालान काटने कि वजह से उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ता है.


कागजात कंप्लीट होने के बावजूद भी सड़क पर गाड़ी जाते ही उनका चालान काट दिया जाता है. ट्रक मालिकों ने बताया कि रोड टैक्स, परमिट फीस, टोल टैक्स और गाड़ी के सभी प्रकार के कागज पूरे थे. फिर भी आरटीए अधिकारियों के द्वारा 50 हजार का चालान काट दिया गया. वहीं एक चालक विरेंद्र ने अधिकारियों पर आरोप लगाया कि अहरवां के पास उसकी गाड़ी का 26 हजार का चालान किया गया. चालान का विरोध करने पर गाड़ी में मौजूद एक पुलिस कर्मी ने उसे पीटना शुरू कर दिया.